महापरिनिर्वाण दिनासाठी चैत्यभूमीवर येणाऱ्या अनुयायांसाठी परिपूर्ण सुविधा - मंत्री सुभाष देसाई

कोणत्याही टिप्पण्‍या नाहीत




मुंबई, दि. 3 : महामानव भारतरत्न डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर यांना महापरिनिर्वाणदिनी अभिवादन करण्यासाठी दादर येथील चैत्यभूमी येथे येणाऱ्या अनुयायांना सुविधा मिळाव्यात, यासाठी राज्य शासन व महानगरपालिकेने केलेल्या उपाययोजनांचा आज मंत्री सुभाष देसाई यांनी आढावा घेतला. यंदा दरवर्षीपेक्षा जास्त अनुयायी येण्याची शक्यता गृहित धरून त्याप्रमाणे नियोजन करावे. तसेच अनुयायांना देण्यात येणाऱ्या अन्नाचा दर्जा उत्कृष्ट ठेवण्यासाठी योग्य कार्यवाही करण्याच्या सूचना श्री. देसाई यांनी यावेळी दिल्या.
          
सह्याद्री अतिथीगृहात झालेल्या या बैठकीत श्री. देसाई यांनी राज्य शासन, पोलीस, बृहन्मुंबई महानगरपालिका, बेस्ट यांनी केलेल्या तयारीसंदर्भात माहिती घेतली.
          
महानगरपालिकेतर्फे चैत्यभूमी  व शिवाजी पार्क येथे अनुयायांसाठी विविध सोयी देण्यात येतात. चैत्यभूमी, अशोक स्तंभ, भीमज्योत यासह संपूर्ण परिसराची डागडुजी व रंगरंगोटी करण्यात आली आहे. नियंत्रण कक्ष स्थापन करण्यात आले आहे.  तसेच दुर्मिळ छायाचित्रांचे प्रदर्शन भरविण्यात येणार आहे. सहा डिसेंबर रोजी शासकीय मानवंदना देण्यात येणार असून, हेलिकॉप्टरद्वारे पुष्पवृष्टीही करण्यात येणार असल्याची माहिती यावेळी देण्यात आली.
          
राज्यभरातून येणाऱ्या अनुयायांसाठी शिवाजी पार्क येथे निवासासाठी मंडप टाकण्यात येत आहे. तसेच येथे एलईडी स्क्रिन, भोजन मंडपाची व्यवस्था, पिण्याच्या पाण्यासाठी 16 टँकर व 380 नळांची व्यवस्था, 18 मोबाईल शौचालय व 120 फायबर शौचालये, 260 स्नानगृह, परिसरात विद्युत दिव्यांची सोय, समुद्र किनाऱ्यावर 48 जीव रक्षकांची नेमणूक, मंडपामध्ये 300 मोबाईल चार्जिंग पॉइंट आदी व्यवस्था करण्यात आली आहे. शिवाजी पार्क व चैत्यभूमी परिसरात 3 वैद्यकीय कक्ष उभारण्यात येणार असून 11 रुग्णवाहिका तैनात करण्यात येणार आहेत. या ठिकाणी आरोग्य तपासणी व औषधाचा पुरवठा करण्यात येणार असल्याचे यावेळी सांगितले.

पोलीस दलाच्या वतीने परिसरात योग्य तो बंदोबस्त ठेवण्यात आला आहे. तसेच 100 सीसीटीव्हीद्वारे लक्ष ठेवण्यात येत असून, शिवाजी पार्क व चैत्यभूमी येथे नियंत्रण कक्ष स्थापन करण्यात आले असल्याचे संबंधित अधिकाऱ्यांनी सांगितले.

श्री. देसाई म्हणाले, महामानव डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर यांना अभिवादन करण्यासाठी येणाऱ्या अनुयायांसाठी प्रशासनाने योग्य तयारी केली आहे. अनुयायांना कोणतीही कमतरता भासू नये, यासाठी मुख्यमंत्री महोदयांनी विशेष सूचना दिल्या आहेत. महापालिकेनेही चांगले नियोजन केले आहे. राज्य शासनाच्या वतीने शिवाजी पार्क येथे डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर यांच्या जीवनावरील चित्रपट दाखविण्यात येणार आहे. मुंबई महानगरपालिकेच्या वतीने काढण्यात आलेल्या माहिती पुस्तिकेची संख्या पन्नास हजारावरून दीड लाख करावी. जेणेकरून सर्व अनुयायांना ती सुलभपणे मिळू शकेल. तसेच इंदू मिल येथे उभारण्यात येणाऱ्या डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर यांच्या स्मारकाचे चित्र परिसरात लावण्यात यावे, अशा सूचना त्यांनी यावेळी दिल्या. 

विविध संस्था, संघटनांतर्फे शिवाजी पार्कवर देण्यात येणाऱ्या अन्नदानाचा दर्जा चांगला असावा व ते सुरक्षित असेल, यासाठी अन्न व औषध प्रशासनाने काळजी घ्यावी, असेही मंत्री श्री.देसाई यांनी यावेळी सांगितले.

आमदार आदित्य ठाकरे यांनी महानगरपालिकेने इंदू मिल येथील स्मारकाचे छायाचित्र चैत्यभूमी परिसरात लावावे तसेच पावसाची शक्यता गृहित धरून आपत्कालीन व्यवस्था योग्य रितीने करावी, अशी सूचना केली.

यावेळी आमदार भाई गिरकर, माजी आमदार सचिन अहिर, अर्जुन डांगळे, डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर महापरिनिर्वाण दिन समन्वय समितीचे सरचिटणीस नागसेन कांबळे, उपाध्यक्ष महेंद्र साळवे, सिद्धार्थ कासारे, रवी गरूड तसेच मनोज संसारे यांच्यासह विविध विभागाचे सचिव, वरिष्ठ पोलीस अधिकारी व महापालिकेचे अधिकारी उपस्थित होते.
००००
नंदकुमार वाघमारे/विसंअ/3.12.2019


महापरिनिर्वाण दिवस के अवसर पर चैत्यभूमी पर आने वाले अनुयायियों के लिए सभी सुविधा- मंत्री सुभाष देसाई

मुंबई, दि. 3 : महामानव भारत रत्न डॉ बाबासाहब अम्बेडकर को महापरिनिर्वाण दिवस पर अभिवादन करने के लिए दादर स्थित चैत्यभूमी पर आने वाले अनुयायियों को उपलब्ध कराई जाने वाली सुविधाओं के लिए राज्य सरकार और मुंबई महानगरपालिका द्वारा की गई व्यवस्था की समीक्षा मंत्री सुभाष देसाई ने की है। इस साल हर साल की तुलना में अधिक अनुयायी आने वाले हैं, और उसी के अनुसार योजना बनाएं। इसी तरह से अनुयायियों को प्रदान किए जाने वाले भोजन की गुणवत्ता को बनाए रखने के लिए उचित कार्रवाई करने का निर्देश श्री देसाई ने दिया है।
            
सह्याद्री अतिथि गृह में आयोजित की गई इस बैठक में श्री देसाई ने राज्य सरकार, पुलिस, मुंबई महानगर पालिका, बेस्ट द्वारा की गई तैयारियों के बारे में जानकारी ली।
            
मुंबई महानगर पालिका द्वारा चैत्यभूमि और शिवाजी पार्क पर अनुयायियों के लिए विभिन्न सुविधाएं मुहैया कराई जाती है। चैत्यभूमि, अशोक स्तंभ, भीमज्योत सहित पूरे क्षेत्र का मरम्मत और रंगरोगन किया गया है। एक नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है। साथ ही दुर्लभ तस्वीरों का प्रदर्शन भी लगाया जाएगा। 6 दिसंबर को सरकार द्वारा श्रद्धाजंलि अर्पित किया जाएगा और हेलीकॉप्टर द्वारा पुष्प वर्षा किया जाएंगा।
            
राज्य भर से आने-वाले अनुयायियों के लिए शिवाजी पार्क में एक मंडप स्थापित किया जा रहा है। एलईडी स्क्रीन, भोजन मंडप की व्यवस्था, पीने के पानी के लिए 16 टैंकर और 380 नलों की व्यवस्था, 18 मोबाइल शौचालय और 120 फाइबर शौचालय, 260 स्नान गृह, परिसर में बिजली के लैंप की व्यवस्था, समुद्री किनारों पर 48 जीवन रक्षकों को तैनात किया गया हैं, मंडप में 300 मोबाइल चार्जिंग पॉइंट मुहैया किया गया है। शिवाजी पार्क और चैत्यभूमि क्षेत्र में तीन चिकित्सा कक्ष स्थापित किए जाएंगे और 11 एम्बुलेंस तैनात किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस स्थलों पर स्वास्थ्य जांच और दवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी, यह जानकारी भी दी गई।

पुलिस बल द्वारा इस परिसर में उचित बंदोबस्त की व्यवस्था की गई है। इसी तरह से 100 सीसीटीवी से निगरानी के साथ-साथ शिवाजी पार्क और चैत्यभूमि पर नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है। सम्बंधित अधिकारियों ने यह जानकारी दी है।

श्री देसाई ने कहा, महामहिम डॉ बाबासाहब अम्बेडकर का अभिवादन करने के लिए आने वाले अनुयायियों के लिए प्रशासन ने अच्छी तैयारी की है। अनुयायियों को किसी भी तरह की कमी न महसूस होने पाए, इस बाबत मुख्यमंत्री ने विशेष निर्देश दिए हैं। महानगर पालिका ने भी अच्छी योजना बनाई है। राज्य सरकार की ओर से शिवाजी पार्क पर डॉ बाबासाहब अम्बेडकर के जीवन पर एक फिल्म दिखाई जाएगी। मुंबई महानगर पालिका द्वारा जारी की गई सूचना पुस्तकों की संख्या पचास हजार से बढ़ाकर डेढ़ लाख की जानी चाहिए। ताकि सभी अनुयायी इसे आसानी से प्राप्त कर सकें। इसी तरह से इंदु मिल में बनाए जाने वाले बाबासाहेब अम्बेडकर का स्मारक का चित्र परिसर में लगाया जाए। उन्होंने इस तरह का सुझाव दिया है।
            
विभिन्न संस्था और संगठनों द्वारा शिवाजी पार्क में दिए जाने वाले भोजन की गुणवत्ता अच्छी रहे और सुरक्षित रहे। श्री देसाई ने खाद्य और औषधि प्रशासन को यह भी ध्यान रखना चाहिए।

विधायक श्री आदित्य ठाकरे ने मुंबई महानगर पालिका को सुझाव दिया कि महानगर पालिका इंदु मिल के स्मारक की फोटो को चैत्यभूमि में लगाए, साथ ही बारिश की संभावना को भी ध्यान में रखते हुए आपातकालीन व्यवस्था को उचित तरीके से ठीक करना चाहिए।
           
इस अवसर पर विधायक आदित्य ठाकरे, विधायक भाई गिरकर, पूर्व विधायक सचिन अहीर, अर्जुन डांगले, डॉ बाबासाहब अंबेडकर महापरिनिर्वाण दिवस समन्वय समिति के महासचिव नागसेन कांबले, उपाध्यक्ष महेंद्र सालवे, सिद्धार्थ कासारे, रवि गरुड और मनोज संसारे, विभिन्न विभागों के सचिव, वरिष्ठ पुलिस अधिकारी और मुंबई महानगर पालिका के अधिकारी उपस्थित थे।

0000

कोणत्याही टिप्पण्‍या नाहीत

टिप्पणी पोस्ट करा

Blogger द्वारा समर्थित.