मंत्रालयात सिंगल यूज प्लास्टिकला 'गुडबाय'; मुख्य सचिवांसह अधिकारी-कर्मचाऱ्यांनी घेतली प्लास्टिकमुक्तीची शपथ

कोणत्याही टिप्पण्‍या नाहीत



मुंबई, दि. १ : राष्ट्रपिता महात्मा गांधी यांच्या १५० व्या जयंतीनिमित्ताने  ' स्वच्छता एक सेवा' हा उपक्रम राज्यभर राबविला जात आहे. या उपक्रमांतर्गत मंत्रालयात प्लास्टिक वस्तूंचा  त्याग करून पर्यावरणाच्या रक्षणात योगदान देण्याची  शपथ आज राज्याचे मुख्य सचिव अजोय मेहता यांनी घेतली तसेच मंत्रालयातील वरिष्ठ  अधिकारी कर्मचाऱ्यांनाही  शपथ दिली.

‘स्वच्छता ही सेवा’ ही मोहिम ११ सप्टेंबर ते २७ ऑक्टोबर २०१९ या कालावधीत राबविला जात आहे. मंत्रालयातील त्रिमूर्ती प्रांगणात नगरविकास विभागाने आयोजित केलेल्या 'गुडबाय सिंगल यूज प्लास्टिक' या उपक्रमात अधिकारी व कर्मचाऱ्यांनी शपथ घेतली. 

यावेळी मुख्य सचिव श्री. मेहता म्हणाले की, आजपासून मी सिंगल यूज प्लास्टिकच्या वस्तूंचा वापर करणार नाही. मी सिंगल यूज प्लास्टिकच्या वस्तूंचा त्याग करुन विश्व पर्यावरण रक्षणात माझेही योगदान देईन. माझी हीच कृती बापूजींच्या १५० व्या जयंतीनिमित्त त्यांना वाहिलेली आदरांजली असेल, असेही श्री.महेता यांनी सांगितले.

यावेळी महसूल विभागाचे अतिरिक्त मुख्य सचिव मनुकुमार श्रीवास्तव, कौशल्य विकास आणि उद्योजकता विभागाच्या अतिरिक्त मुख्य सचिव श्रीमती सुजाता सौनिक,  पर्यावरण विभागाचे प्रधान सचिव अनिल डिग्गीकर, नगरविकास विभागाच्या प्रधान सचिव श्रीमती मनिषा म्हैसकर, सार्वजनिक बांधकाम विभागाचे प्रधान सचिव मनोज सौनिक, उद्योग, ऊर्जा व कामगार विभागाचे प्रधान सचिव राजेश कुमार, पदुम विभागाचे प्रधान सचिव अनुप कुमार, सामाजिक न्याय व विशेष सहाय्य विभाग सचिव दिनेश वाघमारे, वन विभागाचे प्रधान सचिव विकास खारगे, अल्पसंख्याक विभागाचे प्रधान सचिव श्याम तागडे, सचिव विनिता वेद-सिंगल आदी वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित होते. 

सिंगल युज प्लास्टिकला गुडबाय करण्याच्या या मोहिमेमुळे नागरिकांत जागृती होईल. ‘आता आपल्यामुळेच फरक पडेल’, असे घोषवाक्य वापरत सिंगल युज प्लास्टिकचा वापर टाळण्याचे आवाहन नगरविकास विभागामार्फत करण्यात आले आहे.
0000

मंत्रालय में सिंगल यूज प्लास्टिक को 'गुडबाय'
मुख्य सचिव समेत अधिकारी-कर्मचारियों ने ली प्लास्टिक मुक्ति की शपथ


मुंबई, दि. १ : राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की १५० वीं जयंति के उपलक्ष्य में 'स्वच्छता एक सेवा' यह उपक्रम पूरे राज्य में चलाया जा रहा है।  इस उपक्रम के अंतर्गत मंत्रालय में प्लास्टिक वस्तुओं का त्याग कर पर्यावरण की सुरक्षा में योगदान देने की शपथ आज राज्य के मुख्य सचिव अजोय मेहता ने ली और मंत्रालय के वरिष्ठ  अधिकारी एवं कर्मचारियों को  शपथ दिलाई।

स्वच्छता ही सेवायह अभियान ११ सितंबर से २७ अक्तूबर २०१९ इस अवधि तक चलाया जा रहा है। नगरविकास विभाग द्वारा मंत्रालय के त्रिमुर्ती प्रांगण में आयोजित 'गुडबाय' सिंगल यूज प्लास्टिक’  इस उपक्रम में अधिकारी एवं कर्मचारियों ने शपथ ली।

इस दौरान मुख्य सचिव श्री. मेहता ने कहा कि आज से मैं सिंगल यूज प्लास्टिक के वस्तुओं का उपयोग नहीं करूंगा। मैं सिंगल यूज प्लास्टिक के वस्तुओं का त्याग कर विश्व पर्यावरण सुरक्षा में मैं अपना योगदान दूंगा। यहीं मेरा कार्य बापुजीं के १५० वीं जयंति के अवसर पर उन्हें दी हुई आदरांजली रहेगी।

कार्यक्रम में राजस्व विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव मनुकुमार श्रीवास्तव, कौशल विकास एवं उद्योजकता विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्रीमती सुजाता सौनिकपर्यावरण विभाग के प्रधान सचिव अनिल डिग्गीकर, नगरविकास विभाग की प्रधान सचिव श्रीमती मनिषा म्हैसकर, सार्वजनिक निर्माणकार्य विभाग के प्रधान सचिव मनोज सौनिक, उद्योग, उर्जा एवं कामगार विभाग के प्रधान सचिव राजेश कुमार, पदुम विभाग के प्रधान सचिव अनुप कुमार, सामाजिक न्याय एवं विशेष सहाय विभाग के सचिव दिनेश वाघमारे, वन विभाग के प्रधान सचिव विकास खारगे, अल्पसंख्यक विभाग के प्रधान सचिव श्याम तागडे, सचिव श्रीमती विनीता वेद-सिंघल समेत मंत्रालय के विविध विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। 

सिंगल युज प्लास्टिक को गुडबाय करने की इस अभियान से नागरिकों में पर्यावरण की सुरक्षा के प्रति जनजागरण होगा। अब हमसे ही होगा परिवर्तन’ (आता आपल्यामुळेच फरक पडेल’) इस घोषवाक्य का आवाहन नगरविकास विभाग की ओर से किया गया है।


००००

कोणत्याही टिप्पण्‍या नाहीत

टिप्पणी पोस्ट करा

Blogger द्वारा समर्थित.