शीला दीक्षित यांच्या निधनाने परिपक्व राजकीय व्यक्त‍िमत्त्वाचा अस्त - मुख्यमंत्र्यांची श्रद्धांजली

कोणत्याही टिप्पण्‍या नाहीत




मुंबई, दि. 20 : दिल्लीच्या माजी मुख्यमंत्री श्रीमती शीला दीक्षित यांच्या निधनाने एक कुशल, सहृदयी आणि परिपक्व राजकीय व्यक्तिमत्त्व आपण गमावले आहे, अशा शब्दात मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस यांनी श्रद्धांजली अर्पण केली आहे.

मुख्यमंत्री शोकसंदेशात म्हणतात, श्रीमती दीक्षित यांनी सलग तीनवेळा मुख्यमंत्री म्हणून कामकाज सांभाळताना दिल्लीचा चेहरामोहरा बदलण्यासाठी घेतलेल्या परिश्रमामुळे त्यांना जनमानसात विशेष स्थान प्राप्त झाले होते. एक कुशल संघटक आणि प्रशासक हीदेखील त्यांची ओळख होती. महिलांच्या समस्यांविषयी विविध पातळ्यांवर त्यांनी आवाज उठवला. विशेषत: संयुक्त राष्ट्रसंघाच्या महिलांविषयक आयोगावर भारताचे प्रतिनिधित्व करताना त्यांनी महिलांच्या समस्या जगासमोर प्रखरतेने आणल्या. खासदार, केंद्रीय मंत्री, राज्यपाल अशा विविध भूमिकांमधूनही त्यांचे कर्तृत्व वाखाणण्याजोगे राहिले.
0000


शीला दीक्षित का निधन से
परिपक्व राजनीतिक व्यक्तित्व का अस्त
- मुख्यमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
मुंबईदिनांक 20: मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती शीला दीक्षित के निधन से एक कुशलसहृदय और परिपक्व राजनीतिक व्यक्तित्व को हमने खो दिया है। इन्ही शब्दों के साथ मुख्यमंत्री ने श्रीमती दीक्षित को श्रद्धांजलि अर्पित की है।
मुख्यमंत्री ने अपने शोक संदेश में कहा कि श्रीमती दीक्षित ने लगातार तीन बार मुख्यमंत्री के रूप कामकाज संभाला हैऔर उन्होंने दिल्ली का चेहरा बदलने के लिए प्रयास किया है जिसके कारण  जनता के बीच में उन्हें
विशेष स्थान मिला। एक कुशल संगठनकर्ता और प्रशासक भी उनकी एक पहचान थीं। उन्होंने विभिन्न स्तरों पर महिलाओं के मुद्दों को उठाया। विशेष रूप सेमहिलाओं पर संयुक्त राष्ट्र आयोग का प्रतिनिधित्व करते हुएउन्होंने महिलाओं की समस्याओं को दुनिया में सबके सामने प्रखरता के साथ रखा। सांसदकेंद्रीय मंत्रीराज्यपाल जैसी विभिन्न भूमिकाओं में भी उनका काम प्रशंसनीय था।
००००

कोणत्याही टिप्पण्‍या नाहीत

टिप्पणी पोस्ट करा